♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

17 छात्राओं से की छेड़खानी आरोपी प्रबंधक गिरफ्तार मुजफ्फरनगर में एग्जाम के बहाने लड़कियों को रातभर स्कूल में रोका खिचड़ी में नशीला पदार्थ मिला की छेड़छाड़

[simple-author-box]

 

रिपोर्ट: आजम (संवाददाता मुज़फ्फरनगर)

मुज़फ्फरनगर प्रैक्टिकल एग्जाम दिलाने के बहाने मुजफ्फरनगर में 10 वीं की 17 छात्राओं के साथ प्रबंधक ने ही छेड़छाड़ किया । आरोप है कि रातभर उन्हें स्कूल में रोका गया और खिचड़ी में नशीला पदार्थ मिलाकर उनके साथ प्रबंधक ने छेड़छाड़ की छात्राएं उसकी इस हरकत से सहम गई हैं । पुलिस का कहना है कि आरोपी प्रबंधक को गिरफ्तार कर लिया है । छात्राओं की काउंसिलिंग कराई जाएगी । क्राइम ब्रांच स्कूल मैनेजमेंट से पूछताछ कर रही है । दो स्कूलों के प्रबंधक पर छेड़छाड़ का आरोप 18 नवंबर को मजलिसपुर तौफीर स्थित एक स्कूल से 10 वीं की 17 छात्राओं को प्रैक्टिकल एग्जाम दिलाने के लिए ले जाया गया । छात्राओं का कहना है कि उन्हें तुगलकपुर कम्हेड़ा के पुरकाजी में एक स्कूल में ले जाया गया । प्रबंधक अपनी जिम्मेदारी पर साथ लेकर गया था । पुरकाजी और मजलिसपुर तौफीर दोनों स्कूल के प्रबंधक ने मिलकर छेड़छाड़ किया । 17 छात्राओं को रात में ही पुरकाजी में इंटरनेशनल एकेडमी में रुकवा लिया था । रात में छात्राओं को खिचड़ी में नशीला पदार्थ मिलाकर दिया गया । इसके बाद उनसे छेड़छाड़ की गई । किसी को कुछ बताने पर जान से मारने की धमकी दी गई । शिकायत पर पांच दिसंबर को मुकदमा दर्ज एक छात्रा के अभिभावक ने थाना पुरकाजी में तहरीर दी थी । इस पर पुरकाजी विधायक प्रमोद ऊटवाल ने छेड़छाड़ की घटना पर नाराजगी व्यक्त की थी । इसके बाद एएसपी की जांच और एसएसपी के आदेश पर दोनों स्कूल के प्रबंधकों योगेश कुमार और अर्जुन सिंह के विरुद्ध पॉक्सो एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया । छह दिसंबर की रात एक आरोपी योगेश कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया । दूसरे आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है । बाल कल्याण समिति ने खुद लिया था संज्ञान 17 स्कूली छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की घटना का बाल कल्याण समिति ने स्वत : संज्ञान लिया था । बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष बीना शर्मा ने बताया कि सभी पीड़ित छात्राएं काफी सहमी हैं । पुलिस अपना काम कर रही है । लेकिन , समिति ने निर्णय लिया है कि सभी पीड़ित छात्राओं की काउंसिलिंग कराई जाएगी । थाना पुरकाजी के एसओ अशोक सोलंकी का कहना है कि शीघ्र ही सभी पीड़ित छात्राओं का मेडिकल परीक्षण कराया जाएगा । दूसरे आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं ।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275