♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

मुज़फ्फरनगर: श्रीमद्भागवत दिवस पर दून वैली पब्लिक स्कूल में हुआ कार्यक्रम आयोजित, बच्चो ने सुनाए श्रीमद्भागवत गीता के श्लोक

[simple-author-box]

मुज़फ्फरनगर। दून वैली पब्लिक स्कूल में श्रीमद्भागवत दिवस मनाया गया जिसमें कक्षा 1&2 के विद्यार्थियों ने गीता के श्लोक सुनाएं उनका अर्थ बताया तथा जीवन में उनका क्या महत्व है इस विषय पर प्रकाश डाला कर्मण्ए वाधिकारस्ते, नैनम छिंदंति शस्त्राणि जैसे श्लोक उच्चारित किए और वातावरण को भक्तिमय बना दिया ।
स्कूल प्रधानाचार्य सीमा शर्मा जी ने बच्चों को भगवत गीता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी और बताया कि हमारे ग्रंथ सच्चाई व धर्म पर चलने की प्रेरणा देते हैं भगवत गीता में 18 अध्याय हैं 5000 वर्ष पहले धर्म युद्ध में भगवान श्री कृष्ण द्वारा अर्जुन को दिखाए गए मार्ग का प्रतिरूप भगवत गीता है।
स्कूल प्रबंधक राज किशोर गुप्ता व अनुराग सिंघल ने बच्चों को भगवत गीता दिवस की बधाई दी और कहा की जिस समय भगवान श्री कृष्ण ने गीता का उपदेश दिया था उस समय धर्म का उल्लंघन हो रहा था भगवान का डर इंसान के मन से निकल गया था गीता, कुरान, बाइबल ,गुरु ग्रंथ साहिब, सभी भगवान की किताबें हैं जो इंसान के लिए हैं किसी एक धर्म और समुदाय के लिए नहीं है उन्होंने यह भी बताया कि भगवत गीता के सार को समझने के लिए भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को दिव्य नेत्र प्रदान किए थे और आत्मा का ज्ञान कराया था आत्मा अजर और अमर है जीव मरता है आत्मा नहीं । यही सच्चाई है उन्होंने बच्चों के इस प्रयास की दिल से सराहना की।
ब्रांच हेड मिस ईवा ने बच्चों के इस प्रयास के भूरी भूरी प्रशंसा की और भगवत गीता दिवस की बधाई दी। इस अवसर पर सभी अध्यापिकाएं उपस्थित रही।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275