♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

संसद शीतकालीन सत्रः लखीमपुर खीरी हिंसा मामले मे विपक्ष का भारी हंगामा, शुक्रवार सुबह 11 बजे तक दोनो सदनो मे कार्यवाही स्थगित

[simple-author-box]

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में विपक्ष केन्द्र व राज्य सरकार को लगातार घेरने मे लगा है, एसआईटी की रिपोर्ट आने के बाद राहुल गांधी के साथ विपक्ष के कई नेताओं ने केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे की मांग को अब तेज कर दिया है। विपक्ष जहां लगातार सरकार पर इस्तीफे का दबाव बनाने की कोशिश में लगा है सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का हवाला देकर मांग को अनसुना किया है। इस बीच विपक्ष के हंगामे के चलते लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही कल यानी शुक्रवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मामले मे बयान देते हुए कहा कि संसद को परिवार के पॉलिटिकल पाखंड की प्रयोगशाला बनने नहीं दिया जाएगा। जो लोग संसद नहीं चलने दे रहे हैं उनको लगता है कि वे संसद की उत्पादकता को नुकसान पहुंचा रहे हैं। वे लोग संसद की उत्पादकता को नुकसान नहीं बल्कि अपनी उद्दंडता को दिखा रहे हैं।

तृणमूल कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत पर चर्चा करने के लिए आज 16 दिसंबर को सुबह 11 बजे दोपहर 12 बजे और दोपहर 2 बजे नियम 267 के तहत कामकाज स्थगित करने की मांग की। कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी लखीमपुर खीरी कांड को लेकर राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया और मांग की कि सरकार मंत्री अजय टेनी का इस्तीफा तुरंत ले

राज्यसभा में 12 संसदों के निलंबन के मुद्दे के साथ.साथ लखीमपुर खीरी मामले पर भी विपक्ष ने हंगामा किया जिसके बाद सदन की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275